प्रार्थना सभा के नाम पर बंद कमरे में महिलाओं को इकट्ठा कर कराया जा रहा था धर्म परिवर्तन

आज़मगढ़ जिले में नगर से लेकर गांव तक धर्म परिर्वतन का मामला थमने का नाम नहीं ले रहा। ताजा मामला फूलपुर कोतवाली के ग्राम सभा गोबरहां की दलित बस्ती में एक घर में प्रार्थना सभा के नाम पर बड़ी संख्या में महिलाओं का धर्म परिर्वतन कराया जा रहा था। जिले में धर्म परिवर्तन का यह कोई पहला मामला नहीं है। हालांकि इस मामले में कार्रवाई को लेकर लिखित शिकायत की पुलिस इंतजार कर रही है।

धर्म परिवर्तन का कार्य ईसाई मिशनरियों द्वारा बड़े पैमाने पर कराया जा रहा है जबकि इस पर कड़ा कानून भी आ चुका है। आजमगढ़ जिले के फूलपुर कोतवाली क्षेत्र में गोबरहां गांव की दलित बस्ती में धर्म परिर्वतन करने की जानकारी के बाद मौके पर पुलिस पहुंची। बताया गया कि दलित बस्ती में हरखू राम के घर के एक कमरे में दो दर्जन महिलाएं मौजूद रही। कमरे के अंदर तंत्रमंत्र करने के सामान के साथ धार्मिक पुस्तक, बोतल में बंद पानी की बोतले अन्य सामान भी मिला। प्रार्थना सभा के साथ तंत्रमंत्र का खेल चल रहा था, यही नहीं महिलाओं को झाड़फूक भी की जा रही थी। मौके पर एक महिला ने बताया कि उसके पति काफी दिनों शराब पीते थे लेकिन ईसा मसीह की शरण में आने के बाद उन्होंने शराब पीना कम कर दिया। वहीं इस मामले में पुलिस जांच में जुटी है।

रिपोर्टर  – राकेश वर्मा

The post प्रार्थना सभा के नाम पर बंद कमरे में महिलाओं को इकट्ठा कर कराया जा रहा था धर्म परिवर्तन। appeared first on News Nasha.