आख़िर क्यों कम उम्र में हो रही है हार्ट अटैक से मौत, जानिए इसका कारण

बुरे लाइफ स्‍टाइल की वजह से किसी भी उम्र में किसी को भी हार्ट अटैक हो सकता है। कम उम्र में हार्ट अटैक के लिए स्‍मोकिंग अल्‍कोहल जंक फूड का सेवन ओवर टाइम और स्‍ट्रेस जिम्मेदार हैं।

कम उम्र में हार्ट अटैक से मौत होने की आशंका उन लोगों को ज्यादा होती है जिनकी फैमिली में यह बीमारी पहले से चली आ रही है। कम उम्र में हार्ट अटैक से मौत के लिए फैमिली हिस्ट्री के अलावा लाइफस्टाइल और खानपान जिम्मेदार है। आइए जानते हैं कि कम उम्र में हार्ट अटैक के लिए कौन-कौन से कारण जिम्मेदार हैं।

-अल्‍कोहल और स्मोकिंग की आदत कम उम्र में हार्ट अटैक का सबसे बड़ा कारण है। जो लोग इन नशीली चीज़ों के आदि हो जाते हैं उन्हें हार्ट अटैक का खतरा अधिक होता है। ये आदतें इंसान के अंदर कार्डियोवस्कुलर डिजिज जैसी बीमारी के लक्षण पैदा कर देती हैं। बॉडी में लक्षण पैदा होने के साथ ही बॉडी में फैट बनने लगता है और कोरोनरी हार्ट बीमारी हो जाती है।

-आमतौर पर युवा पीढ़ी अपनी रोजमर्रा की जिंदगी में जंक फूड पर निर्भर हैं, जिसमें वो तली चीजों का ज्यादातर इस्तेमाल करते हैं। इससे शरीर में कैलोरी की मात्रा बढ़ती है और इसका सीधा प्रभाव सीधा दिल पर पड़ता है।

-तनाव यानि स्‍ट्रेस वो कारण है जिससे आपका तन और मन स्वस्थ नहीं रह सक‍ता है। यह आपके दिल और मस्‍तिष्‍क पर प्रभाव डालता है। इससे जितना बचे और एंजॉय करें उतना अच्‍छा है।

– आज कल व्यक्ति अपनी लाइफस्टाइल में इतने व्यस्त हो जाते हैं कि अपने खाने पीने पर ध्यान नहीं देते हैं। सारा टाइम ऑफिस में कंप्यूटर का इस्तेमाल करते हैं और इसके बाद भी वो घर वापस आकर भी फोन पर लगे रहते हैं। वर्क लोड का सीधा असर ब्‍लड वेसेल्स पर पड़ता है, जिससे हार्ट अटैक आने का खतरा भी बढ़ता हैं |

 

 

 

 

 

The post आख़िर क्यों कम उम्र में हो रही है हार्ट अटैक से मौत, जानिए इसका कारण  appeared first on News Nasha.