समाजवदी पार्टी के मुखिया पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव 23 अगस्त 2022 को आजमगढ़ आएंगे। इस दौरान वे इटौरा स्थिति जेल जाकर हत्या के प्रयास व जहरीली शराब कांड में जेल में बंद पार्टी के विधायक रमाकांत यादव से मुलाकात करेंगे। इसके बाद वे लखनऊ वापस लौटेंगे। माना जा रहा है कि सपा मुखिया इस दौरन कार्यकर्ताओें के साथ बैठक कर सदस्यता अभियान पर चर्चा कर सकते हैं। वैसे अखिलेश के आजमगढ़ आगमन के बाद सियायत गरम होने की उम्मीद है। कारण कि सपाई लगातार रमाकांत की गिरफ्तारी को फर्जी बता रहे हैं। इस संबंध में वे अधिकारियों से भी मिल चुके हैं।

बता दें कि वर्ष 1998 के लोकसभा चुनाव के दौरान सपा प्रत्याशी रमाकांत यादव और बसपा प्रत्याशी अकबर अहमद डंपी के बीच फायरिंग हुई थी। इस मामले में दोनों पक्षों पर हत्या के प्रयास का मुकदमा दर्ज हुआ था। इस मामले में गैर जमानती वारंट जारी होने के बाद जुलाई माह में रमाकांत यादव ने कोर्ट में सरेंडर किया था जहां से उन्हें न्यायिक अभिरक्षा में जेल भेज दिया गया था। वहीं दूसरी तरफ विधानसभा चुनाव 2022 के दौरान फरवरी माह में माहुल में हुए जहरीली शराब कांड में भी रमाकांत यादव उनके भांजे सहित 14 लोगों को आरोपी बनाया गया है। विधानसभा चुनाव मतगणना के दौरान सरकारी कर्मचारी से लैपटाप छीनने के मामले में भी रमाकांत यादव नामजद है। उक्त मामलों में रमाकांत यादव को अब तक जमानत नहीं मिली है।

 

सपाई लगातार रमाकांत यादव को निर्दोष बता रहे हैं। पिछले दिनों सपा नेताओं का प्रतिनिधिमंडल डीएम और एसपी से मिलकर विरोध दर्ज कराया था। अब रमाकांत यादव से मुलकात के लिए पूर्व सीएम अखिलेश यादव आने वाले हैं। प्रोटोकाल के मुताबिक अखिलेश यादव 20 अगस्त को कार से पूर्वांह्न 10 बजे लखनऊ से आजमगढ़ के लिए रवाना होंगे। वे दो बजे सीधे इटौरा स्थित जिला कारागार पहुंचगे। यहां वे रमाकांत यादव से मुलाकात करेंगे। करीबी एक घंटे की मुलाकात के बाद अखलेश यादव 3 बजे लखनऊ के लिए रवाना होंगे। शाम सात बजे वे लखनऊ पहुंचेंगे। पार्टी के निवर्तमान जिलाध्यक्ष हवलदार यादव ने कार्यक्रम की पुष्टि की और कहा कि राष्ट्रीय अध्यक्ष अन्य कार्यक्रमों में भी भाग ले सकते हैं।

 

The post *विधायक रमाकांत यादव से जेल में मिलने जायेंगे अखिलेश* appeared first on News Nasha.