उत्तर प्रदेश 2023 के लिए यूपी पुलिस कांस्टेबल सिविल भर्ती परीक्षा के लिए तैयारी कर रहा है। मंच तैयार किया जा रहा है क्योंकि उत्तर प्रदेश पुलिस भर्ती और प्रोन्नति बोर्ड लगभग 6,500 परीक्षा केंद्रों के चयन की जटिल प्रक्रिया शुरू कर रहा है। चयनित स्थानों पर सामूहिक रूप से 31.75 लाख से अधिक उम्मीदवार रहेंगे।

केंद्रों को चार श्रेणियों में वर्गीकृत किया जा रहा है, जिनमें से प्रत्येक की अपनी अनूठी विशेषताएं हैं। श्रेणी ए में सरकारी स्कूल शामिल हैं, श्रेणी बी में सरकारी वित्त पोषित स्कूल शामिल हैं, श्रेणी सी में निजी और मिशनरी स्कूल शामिल हैं, जबकि श्रेणी डी पहले किसी आयोग या बोर्ड द्वारा अनुशासित संस्थानों के लिए आरक्षित है। नकारात्मक घटना इतिहास वाले कोचिंग संस्थानों और केंद्रों को ईमानदारी से चयन प्रक्रिया से बाहर रखा गया है। इन श्रेणियों का चित्रण बोर्ड द्वारा अपनाए जा रहे सावधानीपूर्वक दृष्टिकोण को दर्शाता है।इसके अलावा, बोर्ड ने परीक्षा हॉलों के लिए स्वयं उच्च मानक निर्धारित किए हैं। मुख्य विशेषताएं अनिवार्य हैं, जिनमें पर्याप्त बैठने की क्षमता, सीसीटीवी निगरानी की उपस्थिति और प्रश्न पत्रों के भंडारण के लिए एक सुरक्षित कमरा शामिल है।

इसके अलावा, परिवहन मानकों के संबंध में विचार किया जा रहा है, जानबूझकर भीड़भाड़ या बाढ़ की संभावना वाले क्षेत्रों में केंद्रों से परहेज किया जा रहा है।

जिला मजिस्ट्रेट और पुलिस आयुक्त जैसे प्रमुख अधिकारी परीक्षा की व्यवस्था की निगरानी के लिए नोडल अधिकारी के रूप में काम कर रहे हैं। उनकी भागीदारी इस भर्ती अभियान के महत्व और एक कुशल और निष्पक्ष चयन प्रक्रिया सुनिश्चित करने की प्रतिबद्धता को रेखांकित करती है।संक्षेप में, जबकि 2023 के लिए यूपी पुलिस कांस्टेबल सिविल भर्ती परीक्षा एक बड़े पैमाने पर होने वाली परीक्षा है, इसकी सफलता सुनिश्चित करने के लिए सावधानीपूर्वक योजना और सख्त मानकों को नियोजित किया जा रहा है।

The post उत्तर प्रदेश: बड़े पैमाने पर पुलिस भर्ती परीक्षा की तैयारी, इतने लाख उम्मीदवार appeared first on Live Today | Hindi TV News Channel.

Previous articleलखनऊ में कांग्रेस की ‘भारत जोड़ो न्याय यात्रा’, भाजपा पर किया तीखा हमला
Next articleडेविड वार्नर ने अंतिम टेस्ट में किया शानदार प्रदर्शन, ऑस्ट्रेलिया ने पाकिस्तान को हराया